Chanakya Niti – Hidden Advice For Businessmen

    0
    122
    chanakya
    chanakya
    Chanakya Niti For Business - Chanakya Has Told These Steps To Increase Business Growth, You Can Also Become A Successful Businessman.

    देवेश तिवारी

    चाणक्य नीती को बड़े पैमाने पर उद्धरणों में लिखा गया है, जिससे लोगों के लिए शब्दों के अर्थ को समझना मुश्किल हो जाता है। कुछ ऐसे संस्करण हैं जो उद्धरणों की व्याख्या करते हैं और अर्थ को समझाते हैं, लेकिन लगभग कोई भी नहीं है जो हमें अपने जीवन के लिए समान नियम लागू करना सिखाता है। एक संक्षिप्त अवलोकन में, पुस्तक आपको अपने दोस्तों को पास रखना सिखाती है, लेकिन आपके दुश्मन भी करीब हैं।

    यहां पांच चीजें हैं जो हर उद्यमी चनाक्या नीती से सीख सकता है।

    1 मामलों को संभालने में विनम्र रहें।

    “विनम्रता एक ऐसा गुण है जिसकी मूर्खों से अपेक्षा नहीं की जा सकती।”

    विश्वास का निर्माण करने और एक टीम बनाने के लिए कार्यस्थल में विनम्र होना अत्यंत महत्वपूर्ण है। विभिन्न कठिन परिस्थितियां हैं जो कार्यस्थल पर लोगों पर फेंकी जाती हैं। किसी को अपना शांत नहीं खोना चाहिए और चतुराई से काम करना जारी रखना चाहिए। कार्यस्थल पर किसी के शांत होने से टीम को नापसंद किया जा सकता है। चूंकि, अधिकांश कार्यस्थल टीम उन्मुख होते हैं, इसलिए टीम के भीतर संघर्ष को आकर्षित करना किसी के हित में नहीं है। हालांकि, एक सरल सलाह, कार्यस्थल में शांत और विनम्र रहना उतना आसान नहीं हो सकता जितना लगता है।

    2 केवल तभी बोलना जब आवश्यक हो एक गुण है।

    “एक व्यक्ति जो एक वर्ष के लिए मौन रखता है, केवल खाने के लिए अपना मुंह खोलता है, उसे दस मिलियन वर्षों के लिए स्वर्ग के सभी सम्मान मिलते हैं।”

    चाणक्य कार्यस्थल पर आवश्यक होने पर ही बोलने के महत्व पर प्रकाश डालता है। यह कार्यस्थल की राजनीति से बाहर रहने के लिए एक आवश्यक रणनीति है जो कार्यालयों में व्याप्त है। केवल तभी बोलना जब आवश्यक हो, आपको अन्य विकर्षणों पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय काम पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है जो मौजूद हैं। यह गुण आपको लंबे समय में एक मजबूत नेता के रूप में उभरने में मदद कर सकता है और यह आपको अपनी टीम के भीतर अन्य लोगों से बाहर खड़े होने में भी मदद कर सकता है।

    अनावश्यक रूप से बोलने से विपरीत प्रभाव पड़ सकता है, आपकी टीम के भीतर के लोग सोच सकते हैं कि आप भोज बढ़ा रहे हैं और उनके काम में बाधा पैदा कर रहे हैं। यदि आप बहुत अधिक अनावश्यक बातचीत करते हैं तो आप टीम के सदस्यों का सम्मान खो सकते हैं। इसलिए, केवल तभी बोलना जब आवश्यक हो कार्यस्थल में एक मजबूत गुण हो सकता है।

    3 व्यक्ति की स्थिति महत्वपूर्ण नहीं है, प्रभाव मायने रखता है।

    “एक हाथी आकार में एक विशालकाय है लेकिन एक छोटा गोडा इसे नियंत्रण में रखता है। एक छोटा सा दीपक भारी मात्रा में अंधेरे को नष्ट कर देता है। एक हथौड़ा के बार-बार वार से एक पहाड़ को तोड़ा जा सकता है। एक बकरी, एक दीपक या एक हथौड़ा क्रमशः हाथी, अंधेरे और पहाड़ के आकार से मेल खाते हैं।”

    चाणक्य ने कहा कि किसी व्यक्ति द्वारा अपनी स्थिति तक पहुँचने के बजाय इस दुनिया पर जो प्रभाव पैदा होता है, उस तक पहुँचना महत्वपूर्ण है। यह व्यावसायिक वातावरण पर लागू होता है क्योंकि ऐसे कई लोग हो सकते हैं जो नेतृत्व की स्थिति में नहीं हैं, लेकिन एक मजबूत प्रभाव पैदा कर रहे हैं। चाणक्य हमें इन लोगों का सम्मान करने के लिए कहता है क्योंकि उनका प्रभाव उन्हें शक्तिशाली पदों पर ला सकता है।
    उद्धरण भी नेताओं या सत्ता के पदों पर लोगों को चेतावनी देता है कि वे बहुत अहंकारी न हों। उनके लिए उन लोगों के प्रति विनम्र होना जरूरी है जो उनके साथ काम कर रहे हैं। दृष्टिकोण हमेशा विनम्रता में से एक होना चाहिए। कंपनी के वरिष्ठ प्रबंधन में लोगों के लिए दूसरों के प्रति अधिक सम्मानजनक होना महत्वपूर्ण है। हालांकि वे आकार या शक्ति के संदर्भ में समान नहीं हो सकते हैं, यह महसूस करना महत्वपूर्ण है कि हर कोई एक प्रभाव पैदा करना संभव है।

    Read more: शिक्षा और छात्रों पर चाणक्य के 7 सूत्र।

    Chanakya Niti For Business

    4 तत्काल संतुष्टि का विकल्प न चुनें, सफलता कदम दर कदम आती है।

    “ड्रॉप बाय ड्रॉप, एक घड़ा भर जाता है। इसी तरह, बहुत कम, पैसे का संग्रह, सीखने और अच्छे कार्य महान खजाने बन जाते हैं।”

    चंकी ने चेतावनी दी है कि व्यापार के लिए तत्काल संतुष्टि जैसा कुछ नहीं है। सफलता एक बार में नहीं आती है, यह ड्रॉप प्रक्रिया द्वारा एक बूंद है। चनाक्या यहां लोगों को सीखने की सराहना करने की सलाह दे रहा है जो व्यक्तिगत जीवन में एक महान खजाना है। सीखना व्यक्तिगत विकास का प्रतिनिधित्व करता है। यदि आप धैर्य रखने की इच्छा के बिना तुरंत सफलता की उम्मीद कर रहे हैं, तो एक मौका है कि आप असंतुष्ट होंगे। उसी समय, यदि आप सफलता की हर बूंद की सराहना करने के लिए तैयार हैं जो आपके रास्ते में आती है, तो आप जीवन में अधिक प्रेरित होंगे और अपने लक्ष्य को प्राप्त करेंगे।

    5 नए सिरे से शुरू करने में कभी देर नहीं होती।

    “उपग्रहों को तुम चिंता मत करो और भविष्य से डरो मत। बुद्धिमान वर्तमान का अच्छा उपयोग करने पर ध्यान केंद्रित करते हैं।”

    हमारे करियर में कई बार, हम एक स्टॉप पॉइंट से टकराते हैं, जहाँ हम जो करते हैं उसमें हम उदासीन होते हैं और हम नए सिरे से शुरुआत करना चाहते हैं। चाणक्य के अनुसार, वर्तमान के बारे में सोचना और हमें खुश करने के साथ आगे बढ़ना सबसे अच्छा है। यदि हम पिछले ब्लंडर्स या विफलताओं के बारे में चिंता करते रहते हैं, तो एक नई शुरुआत आसान नहीं होगी। इसलिए, जीवन में एक नई छलांग लेने के लिए, न केवल साहस होना महत्वपूर्ण है, बल्कि अतीत के बारे में सोचना भी बंद करना है। चाणक्य उन लोगों का सम्मान करता है जो बुद्धिमान के रूप में एक नए सिरे से शुरू करने में सक्षम हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here