Marijuana A Term Coined For Racism.

0
93

Marijuana[गांजा] Benefits And Side Effects.

Jaipur.

Cannabis शायद आप इस नाम से परिचित होंगे और नही तो गांजा, वीड, मारीजुआना या बड़ नाम से आप समझ गए होंगे की हम किसकी बात करने का रहे है। कैनीबिस भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में एक  प्रसिद्ध नशा है जिसे करने से आदमी ज्यादा अच्छे से खाने, सुनने, बोलने लगता है यह तक की उसकी क्रिएटिविटी कई गुना बड़ भी जाति है। फिर भी गांजा दुनिया के ज्यादातर देशों में बैन है क्यों क्योंकि इसके सेवन करने वाले को गुस्सा बोहोत जल्दी आता है और ये ही नहीं उसका ब्लड प्रेशर गिरने के साथ एनिक्साइटी अटैक, स्लो रिएक्शन पर भी बोहोत कुछ। इस व्यवहार का कारण इसमें दो तरह के केमिकल होना एक Tetrahydrocannabinol (टीएचसी) ओर दूसरा cannabidiol (सीबीडी)। हालांकि गांजा कई दवाइयों का बेस पदार्थ भी ही और इसका इस्तेमाल वेदों में चिकित्सा के लिए भी मोजूद है। पर आम आबादी इसे नशीले पदार्थ के लिए ही इस्तेमाल में लेती है। गांजे को सेवन करने के कई तरीके है जिसमे भारत में इसे स्मोकिंग या भांग के रूप में ही लिया जाता रहा है।

गांजे को पूरी दुनिया में Cannabis या Marijuana के नाम से जाना जाता है। पर अब पूरी दुनिया Marijuana नाम को गलत मान रही है और जोर दे रही है की गांजे को कैनिबिस नाम से ही बुलाया जाए ऐसा क्यों इसके पीछे कुछ 100 सालो का इतिहास है आइए जानते है । अमेरिका में गांजे के  Cannabis नाम का चलन था इसे करते कोन थे सिर्फ रीच अमरीकी, इसे ज्यादातर खाने पीने ओर एक्सपेरिमेंट्स के प्रोयोग में लिया जाता था।

फिर  1910 में मेक्सिकन सिविल वॉर की वजह से 8 लाख से ज्यादा मेक्सिकन अमेरिका में इमिग्रेंट्स की तरह आते है। ओर उनका Cannabis इस्तेमाल करने का तरीका था गांजे की पत्तियों को पिस का बीज हटाकर एक पतले पेपर में रोल करो और सिगरेट की तरह स्मोक कर लो। गांजा मैक्सिको कैसे पहुंच वेस्ट भारतीयों व सेलर्स द्वारा। अब गांजे का उपयोग लो क्लास अमरीकी करने लगे जिसके चलते वायलेंस बड़ गया। फिर अमेरिका 1930 में ग्रेट डिप्रेशन झेल रहा था। दुनिया की अर्थव्यवस्था चरमरा गई थीं। तो ब्लेम किसपर डाला जाए पॉलिटीशियन ने सोच मेक्सिकन और अफ्रीकी अमेरिकन्स पर ओर वजह हो गांजे का सेवन और वो कैसे

क्योंकि इससे jazz music आया इसी के साथ अमरीकंस का दिमाग गाने बजाने और मेक्सिकन और अफ्रीकी से लड़ने में ज्यादा रहता था कमाने में कम। इस से अमरीकी लोग सुस्त बने , बस इतना से कारण की वजह से कैनिबिस का नाम मारीजुआन रख दिया गया ताकि उसमे मेक्सिकन झलक दी जा सके। फिर गांजे के प्रति एक्टिविस्ट खड़े होने लगे अमेरिका के 29 स्टेट्स ने गांजे पर पाबंदी लगा दी। फिर एंट्री होती है नारकोटिक्स विभाग के साथ काम कर रहे हैरी एनस्लिंगर की जिन्होंने गांजे के प्रति कैंपेन चलाए और उनके स्टेटमेंट्स से आप उनका भाव समझिए वो कहना क्या चाहते है :

  • “Marijuana is the most violence-causing drug in the history of mankind… Most marijuana smokers are Negroes, Hispanics, Filipinos and entertainers. Their satanic music, jazz and swing, result from marijuana usage.”
  • “Reefer makes darkies think they’re as good as white men…the primary reason to outlaw marijuana is its effect on the degenerate races.”
  • He termed Marijuana and link it with “Reefer Madness’

फिर क्या था अमेरिकन फेडरेशन ने इसे पूरे देश के लिए कानून बना दिया। Marijuana को कल्टीवेट ओर बेचने वालो वालों पर 1डॉलर टैक्स ओर प्रोविजंस का उलंघन करने वालो पर 2000 डॉलर्स तक का जुर्माना तय कर दिया गया। अब मारीजुआना नाम को मेक्सिकन एंड अफ्रीकन रेसिजम बता लोग इस नाम को हटाना चाहते है तो कुछ लोगो का मानना है की अब इस नाम मतलब किसी भी रेसिज्म एस्पेक्ट से नहीं जुड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here