Secret Funeral Plan news of Queen Elizabeth ll leaked

0
165
Royal Family
Royal Family

अमेरिका की न्यूज संस्था ‘Politico’ के जरिए इस पूरे प्लान का खुलासा हुआ है | रिपोर्ट के अनुसार, इन योजनाओं को ‘ऑपरेशन लंदन ब्रिज’ कोडनेम दिया गया है |

नंदनी चौहान

आगरा उत्तर प्रदेश|शुक्रवार को ब्रिटेन की महारानी Queen Elizabeth II को लेकर एक रिपोर्ट सामने आई है | जिसमें महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के कुछ घंटों और दिनों में शुरू किए जाने वाले विशाल योजना का खुलासा हुआ है।योजना के अनुसार ब्रिटिश साम्राज्य का सबसे लंबे समय तक नेतृत्व करने वाली महारानी को निधन के दस दिन बाद उन्हें दफनाया जाएगा। इस बीच उनके पुत्र और उत्तराधिकारी प्रिंस चा‌र्ल्स ब्रिटिश साम्राज्य के चार देशों (इंग्लैंड, नार्दर्न आयरलैंड, स्काटलैंड और वेल्स) का दौरा करेंगे।

शुक्रवार को ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के बाद उनके अंतिम संस्कार को गोपनीय बनाए रखने की खुफिया योजना पॉलीटिको द्वारा लीक हो गई है। जिसमें महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के कुछ घंटों और दिनों के बाद बड़े स्तर पर आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों की जानकारी सामने आई है। ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है | इसको लेकर सरकार की भारी आलोचना हो रही है। सरकार और प्रशासन को भी समझ नहीं आ रहा कि इसको लेकर वह किस तरह की सफाई दें और खेद प्रकट करें। लीग हुई योजना के तहत तीन दिन तक महारानी का पार्थिव शरीर लंदन स्थित ब्रिटिश संसद में रखा जाएगा जहां उन्हें देश-विदेश के प्रमुख लोग श्रद्धांजलि देंगे। यहां पर देश के नागरिकों को भी आने की अनुमति होगी। इस दौरान सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त के लिए भी योजना तैयार की गई है। साथ ही लंदन में खाने-पीने के सामान की कमी न हो, इसके लिए अलग से योजना बनाई गई है।अधिकारियों का अनुमान है कि इस दौरान सैकड़ों-हजारों की संख्या में लोग लंदन में पहुंच सकते हैं और उस दौरान ग्रिडलॉक और पुलिस व्यवस्था के साथ भोजन की कमी होने तक की आशंका जताई जा रही है। ब्रिटिश साम्राज्य से लाखों लोग संवेदना व्यक्त करने और अंतिम यात्रा में भाग लेने के लिए लंदन आ सकते हैं, इनमें कई हजार प्रमुख लोग होंगे। दिवंगत महारानी के लिए लंदन के सेंट पाल गिरजाघर में प्रार्थना भी बेहद खास होगी और कई खास लोग उसमें शामिल होंगे। महारानी के निधन के दिन राष्ट्रीय शोक घोषित होगा और उस दिन सार्वजनिक अवकाश भी होगा।

इस योजना की जानकारी अमेरिका की पत्रिका पोलिटिको को मिली है। लेकिन महारानी के आधिकारिक आवास बकिंघम पैलेस ने इस तरह की किसी योजना से इनकार किया है। ऐसी ही देश और दुनिया की खबरों के लिए बने रहें thebawabilat पर|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here