Shooter Avani Lekhara wins 2nd medal at Tokyo

0
168

महिला 50 मीटर राइफल थ्री पॉजिशन एसएच में किया ब्रॉन्ज पर कब्ज़ा

दिव्यादित्य सिंह
जयपुर
. पैरा शूटर Avani Lekhara ने टोक्यो पैरालंपिक में इतिहास रच दिया है। अवनि ने महिला 50 मीटर राइफल थ्री पॉजिशन एसएच में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम कर लिया। वह इससे पहले भी 10 मीटर राइफल में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं। इस मेडल के साथ ही भारत के इस पैरालंपिक में 12 मेडल हो चुके हैं। जो भारत का पैरालंपिक में अब तक का सबसे बढ़िया प्रदर्शन है।

अवनि 445.9 पॉइंट्स के साथ तीसरे नंबर पर रहीं। गोल्ड मेडल China की Kulping Zhang के पास गया जिन्होंने 457.9 पॉइंट्स के साथ पहला स्थान हासिल किया। वहीं Germany की Natascha Hiltrop ने 457.1 पॉइंट्स के साथ सिल्वर मेडल जैसल किया। अवनि इसके साथ एक ही ओलंपिक या पैरालंपिक में दो पदक जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन गई हैं। हालांकि भारत के लिए एक ही ओलंपिक या पैरालंपिक में सबसे ज्यादा पदक जीतने का रिकॉर्ड Joginder Bedi के नाम है। जिन्होंने 1984 में Los Angeles में 3 पदक (एक सिल्वर और दो ब्रॉन्ज) जीते थे।

जयपुर की रहने वाली 19 साल की अवनि की रीढ़ की हड्डी में 2012 में कार दुर्घटना के दौरान चोट लग गई थी। उनके पिता ने उन्हें खेलों में जाने के लिए प्रेरित किया। अवनि ने पहले निशानेबाजी और तीरंदाजी दोनो में हाथ आजमाया। फिर उन्हें निशानेबाजी ही भाई। उन्होंने 2015 में जयपुर के जगतपुरा खेल परिसर में निशानेबाजी की शुरूआत की थी। अवनि ने 2017 में UAE में हुए विश्व कप में भारत के लिए पदार्पण किया था।

अवनि की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री Narendra Modi और राजस्थान के मुख्य मंत्री Ashok Gehlot ने बधाई दी। मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘टोक्यो ओलंपिक्स में और गौरव। अवनी लेखरा की जीत से उत्साहित हूं। उन्हें घर पर कांस्य पदक लाने पर बधाई देता हूं. उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं।’ वहीं गहलोत ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘टोक्यो पैरालिंपिक में महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3पी एसएच1 इवेंट में कांस्य जीतने के लिए उन्हें हार्दिक बधाई। #Paralympics में दो पदक जीतने पर देश को उन पर बहुत गर्व है!’

यह आज के दिन भारत का दूसरा मेडल है। इससे पहले Praveen Kumar ने पुरुष हाई जंप में सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here